टाटा की Punch हुई लॉन्च, कीमत मात्र 5.49 लाख रुपये
Facebook, Instagram और WhatsApp के बाद अब Gmail हुआ डाउन…
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का सर्वर डाउन, यूजर्स हो रहे परेशान
शाहरुख खान का बेटा हुआ गिरफ्तार, एनसीबी ने की कस्टडी बढ़ाने की मांग
IPL 2021: यशस्वी और शिवम दुबे की बेहतरीन पारी ने राजस्थान को दिलाई रॉयल जीत
Health tips: अगर आंखों की रोशनी को करना है तेज, तो जिंदगी में करें कुछ बदलाव
पंजाब: 2 अक्टूबर के अवसर पर सिद्धू का ट्वीट कहा "कोई पद हो या ना हो, हमेशा दूंगा राहुल और प्रियंका गांधी का साथ"
कानपुर: बीच बाजार में सपा नेता की हत्या, आरोपी फरार
IPL2021:शारजाह के मैदान मे आज भिडेंगे मुंबई और दिल्ली, दोनो की नजरें है जीत की ओर
मुंबई: कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए मुंबई में 7 अक्टूबर से खुलेंगे धार्मिक स्थल
IPL 2021: एक बार फिर धोनी ने दिखाया अपना जलवा, छक्का मारकर दिलाई वर्ल्ड कप फाइनल की याद
नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में कम्पोजिट विद्यालय कपरफोरवा के छात्र ने किया टॉप

खो जाने पर अब ऑनलाइन भी निकाल सकते हैं PAN Card, जानें तरीका

PAN कार्ड का इस्तेमाल पहचान पत्र, वित्तीय लेनदेन और आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए किया जाता है. इसे भारत में काफी महत्वपूर्ण दस्तावेज माना जाता है.

वाराणसी: आयकर अधिनियम के अन्तर्गत जारी किए गए स्थायी खाता संख्या (PAN) में एक यूनिक 10-अंकीय अल्फान्यूमेरिक कोड होता है. इसका इस्तेमाल पहचान प्रमाण दस्तावेज, वित्तीय लेनदेन और आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए किया जाता है. हालांकि, नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड (NSDL) पैन कार्ड की चोरी या गुम होने की स्थिति में डुप्लिकेट कॉपी लेने का विकल्प देता है.  

PAN कार्ड खो जाने पर ऐसे मिलेगा वापस

  • incometaxindiaefiling.gov.in/home पर जाएं.
  • ‘अपने पैन को जानें’ पर क्लिक करें.
  • मांगे गए डिटेल भरें और ‘सबमिट’ करें.
  • मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी को दर्ज करें.
  • ‘मान्य करें’ पर क्लिक करें. स्क्रीन पर पैन, नाम, क्षेत्राधिकार आदि दिखाई देंगे.

निम्न स्टेप को फॉलो कर डुप्लीकेट पैन के लिए कर सकते हैं आवेदन 

  • वेबसाइट onlineservices.nsdl.com पर लॉग ऑन करें.
  • अब सेवाओं पर क्लिक करें और पैन विकल्प चुनें.
  • पैन कार्ड के रीप्रिंट के तहत आवेदन पर क्लिक करें.
  • फॉर्म भरें और स्थायी खाता संख्या, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर आदि सहित जानकारी का उल्लेख करें.
  • आधार नंबर का उपयोग पते के ऑटो-अपडेट के लिए किया जा सकता है.
  • अब जमा करने का तरीका चुनें.
  • कोई भी व्यक्ति ई-केवाईसी और ई-साइन के माध्यम से डिजिटल रूप से जमा कर सकता
  • नेट बैंकिंग के माध्यम से आवश्यक भुगतान करें. डेबिट/क्रेडिट कार्ड या डिमांड ड्राफ्ट का विकल्प है.
  • जमा करने पर 15 अंकों की एक रीसिप्ट संख्या उत्पन्न होगी.
  • इसका उपयोग पैन आवेदन की स्थिति को ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है.
Next Post